Main Menu

Home

  • सत्र 2019 प्रथम बैच की वार्षिक परीक्षा दिनाँक- 11 दिसम्बर 2019 से 13 दिसम्बर 2019 के बीच आयोजित है | समस्त प्रशिक्षार्थियों को निर्देशित किया जाता है कि अपना प्रवेश-पत्र दिनाँक- 05/12/2019 से 10/12/2019 तक संस्थान की बेवसाइट से अवश्य डाउनलोड कर लें | संस्थान द्वारा सभी प्रशिक्षार्थियों को लिखित नोटिस एवं मौखिक सूचना देने के बावजूद जिन प्रशिक्षार्थियों का दिसम्बर माह (2019) तक मासिक शुल्क तथा परीक्षा शुल्क जमा नहीं है वो प्रशिक्षार्थी परीक्षा में नहीं बैठ पायेंगे |
  • सत्र 2019 -2020 ऑनलाइन प्रवेश प्रारम्भ - Pharmacy Assistant ,Apply here-https://rhmp.org/form-2/
rhmp.org
WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA
rhmp.org
Image is not available
WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA

WE PRAMOTE N.H.M.

WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA
WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA

WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA

WE PROMOTE N.H.M.
RUN BY GOVT. OF INDIA
previous arrow
next arrow
PlayPause
Slider

OUR COURSES

DIPLOMA IN YOGA TEACHER EDUCATION
yog

NOTE-15-10-2019 से उपरोक्त Courses में ऑनलाइन प्रवेश बन्द हो गया है

BSS MODEL CERTIFICATE

bssCertificate-new

BSS MODEL MARKSHEET

bssMarksheet-new

OUR NEW COURSES

15-10-2019 से ऑनलाइन प्रवेश प्रारम्भ

PHARMACY ASSISTANT का कार्य

  • Pharmacy Assistant को दवा के निर्माण से लेकर उसके भण्डारण और वितरण में जिम्मेदारी पूर्वक अहम् भूमिका निभाने के लिए तैयार किया जाता है |
  • Pharmacy Assistant का कोर्स करने के उपरान्त किसी भी मेडिकल स्टोर एवं चिकित्सा केन्द्र में सहायक के पद पर कार्य कर सकते हैं |
  • Pharmacy Assistant फार्मास्यूटिकल्स कम्पनी में दवा निर्माण, पैकिंग, मार्केटिंग (Medical Representative M.R) आदि कार्यों में सहायक के पद पर कार्य कर सकते हैं |

BSS SKILL MISSION

Skill Testing Center

Educator Code – BSSE-475

BSS Skill Mission के अन्तर्गत प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए चिकित्सा केन्द्रों में 2 वर्ष कार्य करने का अनुभव होना आवश्यक है |

BSS SKILL MISSION (contact No-7310000212)

Dresser(मरहम पट्टी करने वाला)

Cource code – SC384

bssMarksheet-new

Infection Controller Assistant (संक्रमण नियंत्रक (सहायक))

Cource code -SC411

किसी भी चिकित्सालय में कार्य करने अथवा स्वास्थ्य क्षेत्रों में जुड़े अनुभवी (Skilled Person) BSS Skill Mission कार्यक्रम के अंतर्गत दिए जा रहे (Dresser) एवं (infection Controller Assistant) का प्रमाण-पत्र प्राप्त कर ग्रामीण संक्रमण नियंत्रण एवं ड्रेसिंग सेंटर का संचालन एवं नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है|

    फार्म के साथ संलग्नक:-

  • हाईस्कूल का अंकपत्र (स्वप्रमाणित)
  • आधार कार्ड (स्वप्रमाणित)
  • पासपोर्ट साइज की फोटो

प्रमाण-पत्र शुल्क

Dresser – 3000/- रुपये

Infection Controller Assistant – 3000/- रुपये

Registration form fee – 100/- रुपये

BSS Skill Mission के अंतर्गत Skilled Person को मिलने वाले प्रमाण-पत्र एवं उनके उपयोग से सम्बंधित कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर-

  • प्रश्न- BSS Skill Mission के Dresser एवं Infection Controller Assistant के प्रमाण-पत्र हेतु कौन आवेदन कर सकता है ?
  • उत्तर- BSS Skill Mission के अंतर्गत Dresser एवं Infection Controller Assistantके प्रमाण-पत्र हेतु वह व्यक्ति आवेदन कर सकता है, जो चिकित्सा केन्द्रों में 2 वर्ष तक कार्य करने का अनुभव रखता हो |
  • प्रश्न- BSS Skill Mission के अंतर्गत हमे प्रमाण-पत्र कितने दिनों में प्राप्त हो जायेगा ?
  • उत्तर- BSS Skill Mission के अंतर्गत प्रमाण-पत्र प्राप्त करने हेतु आवेदन तिथि से एक माह के अन्दर प्रमाण-पत्र प्राप्त हो जायेगा |
  • प्रश्न- क्या प्रमाण-पत्र पर रजिस्ट्रेशन नंबर होगा ?
  • उत्तर- हाँ, प्रमाण-पत्र पर रजिस्ट्रेशन नंबर रहेगा | सत्यापित करने हेतु www.bssskillmission.in पर लॉग इन कर सकते हैं

BSS SKILL MISSION MODEL CERTIFICATE

bssCertificate-new

CERTIFICATE BACKSIDE

bssMarksheet-new

BSS द्वारा जारी प्रमाण पत्र को आवश्यकता पड़ने पर आप भारत सरकार के विदेश मंत्रालय विभाग से सत्यापित करा सकते हैं |

BSS SKILL MISSION MODEL I-CARD

bssMarksheet-new

bssCertificate-new

BSS VERIFIED BY GOVT. OF INDIA – http://www.bssve.in/goi-directory.asp

GRAMIN SWASTHYA PRERAK PRASHIKSHAN SANSTHAN

LUCKNOW (U.P.)

ALLIED HEALTH SCHOOL

AFFILIATED BY – BSS (BHARAT SEVAK SAMAJ) CODE- UP/8134

ABOUT BSS (BHARAT SEVAK SAMAJ)

The Bharat Sevak Samaj was promoted by the Plaanning Commission, Government of India, in the background first Five Year Plan in 1952 to provide national platform for contructive work, after the achievement of Independence. Father of the nation Mahatama Gandhi visualized the formation of an organization named as’Look Sevak Sangh’ to take up the programmed of socio-economic reconstruction of the country. The idea was further pursed by two of his gretest stalwarts Prime Minister Pt. Jawahar Lal Nehru and Shri Guljari Lal Nanda, then Minister of planning with tha launching of the planned economic development of nation. The National Advisory Committee of the Planning Commission for public Co-operation –

National Voluntary Agencies (राष्ट्रीय स्वैच्छिक एजेन्सी)

International Voluntary Agencies (अंतरराष्ट्रीय स्वैच्छिक एजेन्सी)

  1. Indian Red Cross Society (IRCS)
  2. T.B. Association in India
  3. Bharat Sevak Samaj (BSS)
  4. Hind Kusht Nivaran Sangh (HKNS)
  5. Kasturba Memorial Fund
  6. Central Social Welfare Fund (CSWF)
  7. Family Planning Association of India (FPAI)
  8. All India Blind Relief Society
  9. All India Women’s Conference (AIWC)
  10. Indian Council for Child Welfare (ICCW)
  11. Saint John Ambulance Association
  1. World Health Organization (WHO)
  2. UNFPA (United Nation Fund for Population Activity)
  3. UNDP (United Nation Development Programme)
  4. World Bank
  5. FAO (Food and aggricultural organisation)
  6. UNICEF
  7. DANIDA
  8. EC (European Commission)
  9. International Red Cross Colombo Plan
  10. USAID
  11. UNESCO
  12. ILO
  13. CARE (Co-Operative for American Relief Everywhere)
  14. Rockfeller Foundation
  15. Ford Foundation

ग्रामीण स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम (Our Rural health awareness program)

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य से जुड़े अनुभवी अप्रशिक्षित लोगो के लिए

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य से जुड़े अनुभवी अप्रशिक्षित लोगों का ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा में महत्वपूर्ण योगदान हैं | किन्तु उन्हें अनुभवी होने के बावजूद अप्रशिक्षित होने के कारण अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है |संस्थान ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य से जुड़े अनुभवी अप्रशिक्षित लोगों को ग्रामीण स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत दूरस्थ प्रशिक्षिण के माध्यम से जागरूक कर विभिन्न बीमारियाँ जैसे – मलेरिया, टाईफायड, फायलेरिया, डेंगू, कालाज्वर, पीलिया, हैजा, कालरा, डायरिया, डिसेन्ट्री, निमोनिया, वायरल फीवर, मष्तिक ज्वर, चेचक, खसरा, शुगर, टी.बी., एड्स, एच.आई.वी., कुपोषण, दमा, यौन रोगों के कारण लक्षण बचाव, रोकथाम परिक्षण (जाँचे) तथा चिकित्सक द्वारा आमतौर पर उपयोग किये जाने वाली एन्टीबॉयोटिक्स दवाईयों के प्रचलित नाम उपयोग, कार्य उपलब्धता, मात्रा, दुष्प्रभाव सावधानियाँ आदि के बारे में जागरूक कर ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने हेतु प्रयासरत हैं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य से जुड़े अनुभवी अप्रशिक्षित लोगों को उक्त कार्य क्रम से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए फार्म को (निशुल्क) भरने के उपरान्त संस्थान द्वारा उनके व्हाट्सएप्प नम्बर पर मानव स्वास्थ्य से सम्बंधित विभिन्न बिमारियों के लक्षण, बचाव रोकथाम एवं अन्य उपयोगी जानकारियाँ भेजी जायेंगी |READ MORE

संस्थान के उक्त कार्यक्रम से जुड़ने के लिये निशुल्क फॉर्म भरे –APPLY HERE

Under Rural Health Awareness Distance Training Programme

RHMP MODEL CERTIFICATE

RHMPCERT

RHMP MODEL MARKSHEET

bssMarksheet-new

परीक्षा से सम्बंधित नोटिस

LATEST NEWS

Gallery

No announcement available or all announcement expired.