First Aid (प्राथमिक उपचार)

परिभाषा –

प्राथमिक उपचार किसी घायल या अचानक बिमार हुए व्यक्ति को अस्थाई एवं तुरंत दी गई उपचार सहायता है जिसमे नियमित चिकित्सा देने से पहले वहाँ उस समय उपलब्ध सामग्री का उपयोग किया जाता है I

उद्धेश्य:-

  • जीवन की रक्षा करना |
  • अधिक क्षति से बचाना तथा स्थिति बिगड़ने से रोकना |
  • जहाँ तक संभव हो सके, पीड़ित की क्षमता बनाए रखने के लिए उसे ज्यादा से ज्यादा आरामदेह स्थिति में लाना I
  • घायल व्यक्ति को जल्दी से जल्दी विशिष्ट चिकित्सा सेवाओं के अन्तर्गत लाना |

प्राथमिक उपचार-

प्राथमिक उपचारक एक आम आदमी हो सकता है जो अपने बेहतर कौशल के अनुसार प्राथमिक चिकित्सा के मानक उपायों को लागू करना सीख सकता है I उसे रोगी के पास पहुँचने, समस्या को पहचानने तथा आपात स्थिति में प्राथमिक उपचार उपलब्ध कराने में प्रशिक्षित होना चाहिए I और जब आवश्यक हो तो रोगी को और आगे क्षति बिना अपेक्षित जगह पर ले जा सके I

योग्यताएं-

  • एक अच्छा अवलोकनकर्ता होना चाहिए |
  • तुरंत कार्यवाही करने में सक्षम होना चाहिए |
  • हड़बड़ाहट या अतिउत्तेजन में न आए |
  • भीड़ को संभालने व नेतृत्व की क्षमता होनी चाहिए ताकि पास खड़े देखने वालों से सहायता ले सके |
  • आत्मविश्वास पूर्ण हो तथा प्राथमिक उपचार के दौरान क्षति को समझने की योग्यता होनी चाहिए |
  • आशंकित या घबराए हुए घायल व्यक्ति को भरोसा दिलाने वाला तथा उसके उत्तेजित या निराश संबंधियों के बीच अपनी योग्यता एवं सहानुभूति दिखाकर बेहतर परामर्श एवं संतुष्टि दिलाने वाला होना चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *